सोमवार 30 मार्च से 2 ऐप्रिल तक बन रहा है अद्भुत संयोग, इस राशि वालों की बदल जाएगी किस्मत


यह चैत्र नवरात्रि सोमवार 30 मार्च से 2 अप्रैल गुरुवार तक के लिए सुखद संयोग बन रहा है। इस अवधि के दौरान इन सात राशियों की किस्मत खुलने वाली है। इस राशि के सभी जातको की मनोकामना पूर्ण होगी। क्योंकि इस बार स्वार्थी सिद्धि और अम-त सिद्धि योग भी है।

प्राचीन काल में, महिषासुर नाम के एक असुर ने देवताओं को स्वर्ग से निकालकर अपने कब्जे में ले लिया था। उसके बाद सभी देवता शिव और विष्णु के पास पहुँचे। शिवाजी और विष्णु महिषासुर के आतंक से क्रोधित हो गए। यह तब था कि सभी देवताओं के मुंह से तेज प्रकट हुआ, जो स्त्री रूप में बदल गया।


शिव के तेज के साथ देवी का चेहरा, यमराज के तेज से कैश, विष्णु की चमक के साथ हाथ, चंद्रमा की जांघें, सूर्य के पैर की अंगुली, कुबेर के पैरों की नाक, प्रजापति की महिमा के दांत, अग्नि के प्रकाश की तीन आँखें, वायु तेज की कान की उत्पति हुई।

मेष और वृषभ राशि

यह जातको को सोमवार से गुरुवार, 30 मार्च तक की कुंडली में शुभ समय होगा। इन दो राशियों को दुर्गा सप्तशती के साथ-साथ श्रीराम रक्षास्त्रोत का पाठ करना चाहिए।

कर्क और मकर राशि

इन दोनों राशियों को भरपूर धन की प्राप्ति होगी। किस्मत चमक जाएगी। जीवनसाथी के साथ बहुत अच्छा समय बीतेगा। यह जातको को सुंदरकांड और देवी स्त्रोत का पाठ करना चाहिए। गायत्री महामंत्र का जप करते हुए उगते सूर्य को अर्घ्य दें।


सिंह, धनु और कुंभ राशि

इस राशि के जातको का भाग्य बदलेगा। अचानक लाभ प्राप्त होगा। आपको रक्षास्त्रोत का पाठ करना चाहिए। सूर्य की पूजा करनी चाहिए।

Post a comment

0 Comments